टोल फ्री नंबर: 1800-34-53627 ईमेल पता: rd-ner@esicner.in
मुख्य पृष्ठ | स्थान मानचित्र | संपर्क
(1) कर्मचारी राज्य बीमा निगम, क्षेत्रीय कार्यालय और पूर्वोत्तर क्षेत्र में स्थित शाखा कार्यालयों (सिंक्किम को छोड़कर)  में वर्ष 2018-2019 में हाउस कीपींग कार्य के लिए जन शक्ति की आपूर्ति (2) “महत्वपुर्ण सूचना” : 30 (तीस) दिनों के अंदर, अस्थाई पहचान पत्र की समाप्ति” : अधिक जानकारी के लिए, “नवीनतम सूचना” देखें। (3) आफलाइन चालानों की स्वीकृति एस.बी.आई. शाखाओं द्वारा – के संबंध में : अधिक जानकारी के लिए, “समाचार एवं घटनाक्रम” देखें।

अस्थायी अपंगता हितलाभ

(क) एक कर्मचारी जो रोजगार चोट या व्यावसायिक चोट से पीड़ित है और कार्य करने के लिए अस्थायी असमर्थता के लिए प्रमाणित है, को अस्थायी अपंगता हितलाभ देय है । अधिनियम की धारा 2(8) के अन्तर्गत परिभाषित “रोजगार चोट” को परिभाषित किया गया है कि एक कर्मचारी की व्यक्तिगत चोट जो दुर्घटना या व्यावसायिक रोग होने के कारण रोजगार के दौरान हुई हो, बीमा योग्य रोजगार में होने के कारण, चाहे घटित दुर्घटना या व्यावसायिक रोग भारत की प्रादेशिक सीमा के अन्दर या बाहर हुआ है ।

(ख) स्थायी अपंगता हितलाभ के लिए अपेक्षित प्रमाण पत्र:-
फार्म 16 में दुर्घटना रिपोर्ट, फ़ार्म 8,9,10, 11 और एसिक मेड॰13.

(ग) स्थायी अपंगता हितलाभ के लिए पात्रता :
हितलाभ किसी अंशदायी शर्तों की शर्त पर नहीं दिया जाता है । एक बीमाकृत व्यक्ति के बीमायोग्य रोजगार में प्रवेश के दिन से वह इसका पात्र हो जाता है ।

(घ) अस्थायी अपंगता हितलाभ की दर औसत दैनिक मजदूरी का 90% है ।

(e) अस्थायी अपंगता हितलाभ की अवधि :
अस्थायी अपंगता हितलाभ की समयावधि के लिए कोई सीमा निर्धारित नहीं है । जब तक अस्थायी अपंगता रहती है और उपचार द्वारा महत्वपूर्ण सुधार संभव हो यह देय होता है । यदि अस्थायी अपंगता हितलाभ अवधि 3 दिनों (दुर्घटना दिवस रहित) से कम है तो, यदि अन्यथा पात्र है, बीमारी हितलाभ अदा किया जाएगा । बीमा चिकित्सा अधिकारियों/बीमा चिकित्सा व्यवसायियों के लिए विशेष मुद्दा है कि कुछ बीमाकृत व्यक्ति अस्थायी अपंगता हितलाभ की हानि के डर से विशेषतः 3 दिन से पूर्व अंतिम प्रमाणपत्र लेने का विरोध कर सकते हैं ।